Network Marketing | Multi-level Marketing | MLM - Technolzia

Sunday, September 30, 2018

Network Marketing | Multi-level Marketing | MLM

   नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) क्या होता है?

नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) एक सोचा समझा साइंटिफिक और फिलोसोफिकल मार्केटिंग स्ट्रेटेजी (Marketing Strategy) या एक बिजनेस मॉडल (Business Model) है जिसकी मदत से किसी भी प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services) को बेचा जाता है| इस मार्केटिंग (Marketing)  के तरीके को मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM)और पिरामीड सेल्लिंग (Pyramid Selling) के नाम से भी जाना जाता है|
आसान भाषा में अगर कहे तो नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) एक ऐसा तरीका है जिसमे आप किसी प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services) को किसी व्यक्ति के जरुरत के अनुसार उसे रेकमेंड (recommend) करते है और उस व्यक्ति के प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services)  को खरीदने पे आपको कुछ ना कुछ कमीशन (Commission) मिलता है|
मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) कि उपस्थिति का कोई प्रमाणिक जानकारी तो नहीं है पर इस तरह के बिजनसेस (businesses) सन् 1920 में भी हुआ करती थी|

   क्या नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) इंडिया (India) में लीगल (Legal) है?

Minister of Consumer Affairs, Food and Public Distribution informed the media that the model guidelines on direct selling had been formulated and sent to State Governments.
 State Governments/UTs may kindly take necessary action to implement the same. It is envisaged in the guidelines that the State Governments will set up a mechanism to monitor/ supervise the activities of Direct Sellers, Direct Selling Entity regarding compliance of the guidelines for Direct Selling.
Any direct selling entity conducting direct selling activities shall submit an undertaking to the Department of Consumer Affairs within 90 days, stating that it is in compliance with these guidelines and shall also provide details of its Incorporation. PIB Government of India.
पहले डायरेक्ट सेल्लिंग (Direct Selling) या नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) इंडिया में लीगल नहीं था पर इस बिजनस मॉडल (Business Model) के इंडिया में बड़ते पॉपुलैरिटी (Popularity) और बिजनस अपारचुनिटी (Business Opportunity) को देखते हुए इंडियन गवर्नमेंट (Indian Government) ने कानून में कुछ संसोधन करके नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) को लीगल तो बनाया ही है साथ ही उसके बढ़ने के नये अवसर खुल गये हैं| ऊपर दिए गवर्नमेंट के गाइडलाइन (Guideline) में सभी प्रदेसो को नये कानून के हिसाब से नये मसौदा तौयार करने कि बात कही गयी है|
   ट्रेडिशनल मार्केटिंग (Traditional Marketing) और नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) में क्या डिफरेंस (Difference) है?
ट्रेडिशनल मार्केटिंग (Traditional Marketing) एक ऐसी मार्केटिंग मॉडल (Marketing Model) है जिसमे प्रोडक्ट बनने के बाद डिस्ट्रीब्यूशन सेण्टर (Distribution Center) में जाता है फिर वहाँ से होलसेलर (Wholesaler) के पास जाता है फिर ये प्रोडक्ट्स होलसेलर से रिटेलर के पास जाता है जहा से फाइनली प्रोडक्ट कंज्युमर (Consumer) के पास पहुचता है| इसे टेक्निकल (Technical) भाषा में सप्लाई चेन (Supply Chain) भी कहा जाता है| सप्लाई चेन में उस्पस्थित सभी एंटिटी (Entity) का अपना प्रॉफिट कमीशन (Profit Commission) होता है जो कि प्रोडक्ट को अपने से अगले एंटिटी (Entity) को बेचने पे मिलता है| आप निचे दिए गए इमेज (Image) में दिए गए ट्रेडिशनल मार्केटिंग (Traditional Marketing) के विभिन्न भागो को समझ सकते है...
network marketing, multi-level marketing mlm, home business, work from home
वहीं नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) में प्रोडक्ट बनाने के बाद सीधे कंज्युमर के पास ही जाता है| इसमे वह कंज्युमर ही एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) होता है जो अपने एक्सपीरियंस (Experience) के हिसाब से प्रोडक्ट को आगे रेकमेंड (Recommend) करता है जिसके बदले उसे कुछ कमीशन (Commission) मिलता है साथ ही साथ उसके निचे जुड़े हुये एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) के कमीशन का फायदा भी ऊपर वाले एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) को मिलता है| नीच दिए गए इमेज से समझ सकते है...
network marketing, multi-level marketing mlm, home business, work from home
   नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) कैसे काम करती है?
नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM)में आप कम से कम पैसा लगाकर अधिक से अधिक कमा सकते है| वैसे तो सभी कंपनी (Company) का अपना रूल और रेगुलेशन (Regulation) होता है पर मैं आपको एक सिम्पल एक्जाम्पल (Example) से समझाना चाहूंगा,
एक कंपनी कोई प्रोडक्ट या सर्विस (Product or Services) बनाती है या किसी और के प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services) को बेचती है तो उसके बेचने के कई तरीके हो सकते है| पहला अपने प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services)  को कंज्युमर (Consumer) तक खुद बेचे (जिसे ट्रेडिशनल मार्केटिंग भी कहते है)|
दूसरा अपने प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services)  को बेचने के लिए एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) बनाये और कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विसेज (Product or Services)  को रेकमेंड (Recommend) करने के लिए इन्हे कमीशन (Commission) दे, इस तरह के मार्केटिंग स्ट्रेटेजी (Marketing Strategy) को एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) या रेफेरल मार्केटिंग (Referral Marketing) भी कहते है|
अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) के बारे में और जानना चाहते है तो आप यहाँ से पढ़ (Click Here) सकते है|
और तीसरा, जो बिलकुल दुसरे कि तरह ही है डिफरेंस (Difference) बस इतना है कि ये एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) अपने डाउनलाइन (Downline) में नये एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) को जोड़ सकते है और इनके रेकमेंडेसन (Recommendation) से बने कमीशन के बराबर या कुछ परसेंटेज (Percentage) कमीशन उपलाइन (Up-Line) को भी मिलता है| यह नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) कि बुनियाद होती है जिसका सारा दारोमदार उपलाइन (Up-Line) और डाउनलाइन (Downline) के कंधो पे ही टिकी होती है|
नेटवर्क लाइन (Network Line) में जो उपलाइन (Up-line) होते है वो सीनियर (Senior) होते है और जो डाउनलाइन (Downline) होते है वो  जूनियर (Junior) होते है| आप नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) में कितने स्ट्रोंग है वो इस बात से पता लगता है कि आपके डाउनलाइन (Downline) में कितने लोग जुड़े है|
   नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM)कैसे और कौन ज्वाइन (Join) कर सकता है?
किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) कम्पनी (Company) में आप डायरेक्ट ज्वाइन नहीं कर सकते| आपको ज्वाइन करने के लिए किसी एजेंट (Agent) या रेप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) के थ्रू ही ज्वाइन करना होता है| वह एजेंट (Agent) या रेप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) अपने रिफरेन्स नंबर (Reference Number) से आपको अपने डाउनलाइन (Downline) में ज्वाइन करवाता है जिसके बाद आप भी उस कम्पनी (Company) के एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) बन जाते है| एजेंट (Agent) या रिप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) बनाने के बाद आप भी अपने डाउनलाइन में नये एजेंट (Agent) या रेप्रजेंटेटीव (Representative) या मेम्बर (Member) को अपने रिफरेन्स नंबर (Reference Number) के थ्रू ज्वाइन करवा सकते है और फिर कमीशन (Commission) से पैसे कमा सकते है|
इस तरह के बिजनस कि खास बात ये होती है कि इसे पढ़ा लिखा हो, कम पढ़ा लिखा हो, अनपढ़ हो, लड़का हो या लड़की हो कोई भी ज्वाइन कर सकता है| बस ज्वाइन करने वाले कि उम्र 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए|
नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLMमें अपना करियर (Career) बनाने और काफी ऊपर तक जाने के लिए आपको अपने अन्दर लीडरशिप क्वालिटी (Leadership Quality) डेवेलप (Develop) करना पड़ेगा, मजबूत डाउनलाइन (Downline) खड़ा करना पड़ेगा, अपने उपलाइन (Up-Line) के साथ अच्छा रिलेशनशिप बना के रखना पड़ेगा, आपको निरंतर नये चीझे और कम्पनी में आये नये चंगेस (Changes) को सीखना/ अपडेट (Update) रखना पड़ेगा,  निरंतर नये प्रोस्पेक्ट (Prospect) ढूँढना पड़ेगा और उनका फॉलोउप (Follow-up) लेना पड़ेगा|

मैं आसा करता हूँ कि आपको यह नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) या मल्टी लेवल मार्केटिंग (Multi-level Marketing or MLM) का आर्टिकल (Article) अच्छे से समझ आया होगा| अगर इस आर्टिकल के बारे में कोई सुझाव है या कुछ और जाकारी चाहिए तो निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है|

4 comments:

  1. I found so many interesting stuff in your blog especially its discussion. From the tons of comments on your articles, I guess I am not the only one having all the enjoyment here! keep up the good work... Contact Daquarie Williams

    ReplyDelete
  2. Therefore, they must be extremely careful about what their literature, advertising and promotional material states, what they say in meetings, etc. Start your HYIP Business

    ReplyDelete
    Replies
    1. You're absolutely right. One should always be careful about before joining any MLM company.

      Delete